Dry Skin: शुष्क त्वचा के लिए महत्वपूर्ण घरेलू उपचार

chehre ka rukhapan kaise dur karen
 
शुष्क त्वचा के लिए महत्वपूर्ण घरेलू उपचार
 
शुष्क त्वचा का परिचय:  शुष्क त्वचा तैलीय त्वचा के एकदम विपरीत होती है। कुछ लोगों की त्वचा इतनी खुदरी होती है कि तेल व क्रीम लगाने पर भी नही लगता है कि तेल या क्रीम की मालिश की गयी है। इस तरह की त्वचा में  ग्रन्थियाँ तेल जरूरत से ज्यादा मात्रा में तेल स्रावित नही करती है। ऐसी त्वचा की पहचान बहुत सरल होती है। सुबह उठकर अपने चेहरे को  पोंछे, यदि और दूध की मलाई से  मसाज करें।  शुष्क त्वचा वाले चेहरे पर कोल्ड क्रीम  लगानी चाहिए। शुष्क त्वचा की यह सबसे बड़ी विशेषता है कि यह मौसम और उम्र के प्रभाव से ज्यादातर प्रभावित होती है। इस अच्छाई के साथ-साथ इसका सबसे बड़ा दोष भी है कि ऐसी त्वचा पर  झुर्रियाँ आदि की अधिकता रहती है।


देखभाल : इस तरह की त्वचा में देखभाल की बहुत ज्यादा सफाई पर विशेष ध्यान देना होगा। कही बाहर से आने पर शुष्क त्वचा के लिए उपर्युक्त साबुन ( जैसे  ग्लिसरीन से चेहरा अवश्य धोना चाहिए। घर में रहने पर भी थोड़ी-थोड़ी देर बाद चेहरे पर पानी के छीटें डालकर धोते रहना चाहिए। ऐसी त्वचा पर शुष्क के कारण धूल के कण जल्दी नही  चिपकते हैं व बलेक तथा वाइट हेडस के कारण बनते हैं। बाद में मुँहासों में रूपान्तरित होतें हैं। इसके कारण संक्रमण होने का भी डर  नही रहता है।

1. शुष्क त्वचा के जानने योग्य बातें शुष्क त्वचा पर मॉइश्चराइजर का प्रयोग करें।

2. त्वचा पर गाढ़े मॉइश्चराइजर का प्रयोग करें। 250 ग्रा. दूध का पाउडर, आधा चम्मच बादाम रोगन और परफ्यूम की कुछ बूंदे नहाने के गरम पानी में डालकर बाथ टब में कुछ देर बैठी रहें। इससे पूरा शरीर तरोताजा रहेगा।

3. शुष्ठ के कारण होंठ बहुत जल्दी फट जाते हैं। इसके लिए हर रोज रात में दूध में गुलाब जल और नींबू का रस मिलाकर होंठों पर मल लें। इससे फटे होंठ चिकने दिखेंगे। इस सम्बन्ध में खान-पान पर भी ध्यान रखें।

4. मेकअप साफ करने के बाद क्लीजिंग मिल्क से चेहरा साफ करें।

5. साबुन का इस्तेमाल कम करें।

6. 15 दिन में एक बार भाप लेकर उपयुक्त फेस पैक लगायें।तैलीय 

7. सप्ताह में कम-से-कम दो बार शरीर पर तेल मलकर नहायें और रात को कोल्ड क्रीम लगायें।

8. भोजन में दूध, दही, मक्खन की मात्रा बढ़ायें।

9. जाड़ों में नहाने से पहले बादाम रोगन में नींबू का थोड़ा-सा रस मिलाकर चेहरे और गर्दन पर मलें या फिर मलाई में बादाम पीसकर चेहरे पर लगाकर कुछ देर बाद धो डालें।

10. नहाते समय पानी न अधिक गर्म हो और न अधिक ठण्डा।

11. गोले का तेल, कोल्डक्रीम तथा एन्टीसेप्टीक क्रीम का प्रयोग भी लाभप्रद होगा।

12. विटामिन A, B, C, और D, युक्त भोजन करें या फिर टेबलेट का प्रयोग डॉक्टर की सलाह से करें। उपरोक्त दिये सुझावों को अपनाने पर आपकी त्वचा भी कान्तिमय हो जायेगी। ध्यान रखें ये आपका कर्त्तव्य भी है।

ऐसी वाले लोगों को पानी का खूब सेवन करना चाहिए अर्थात् अधिक पानी पियें व चेहरा भी कई बार छीटें डालकर धोना चाहिए। मसालेदार व चटपटी चीजों का सेवन जहाँ तक हो कम करें । खाने में कम मसाला इस्तेमाल करें। यदि कभी करना भी हो तो पानी को सेवन भी उसी के अनुसार करें। उबटन तथा फेसपैक आदि का भी प्रयोग अवश्य करें लेकिन अपनी त्वचा के अनुकूल।

ऐसी शुष्क त्वचा  वालों को मेकअप हल्का करना चाहिए। मेकअप में क्रीम की अपेक्षा पाउडर का इस्तेमाल कम करना चाहिए। सोने से पहले चेहरे को कच्चे दूध से साफ करना चाहिए। पन्द्रह दिन में एक बार भाप लेकर नाक व आस-पास से भी ब्लेक हेडस जरूर निकालें। चेहरे पर भाप लेने के बाद फेसफैक अवश्य लगाना चाहिए। टमाटर या रस भरी का रस क्लीजिंग मिल्क की जगह इस्तेमाल करें। ज्यादातर पानी से चेहरा न धोयें।

नीचे लिखे हुए तरीकों को भी अपनाएं जिससे आपको अपनी त्वचा आशातीत अन्तर दिखेगा-

1. चाय का चम्मच मुल्तानी मिट्टी ( बारीक छनी हुई ), आधा चम्मच चन्दन पाउडर, आधा चम्मच केलामाइन पाउडर। इन सबको पानी या गुलाब जल की सहायता से गाढ़ा पेस्ट बनायें व दिन में दो बार लगाकर थोड़ी देर बाद धो दें।

2. 2 चम्मच केवलिन पाउडर या 2 चम्मच मुल्तानी मिट्टी, एक चम्प चन्दन पाउडर दो बी-काम्प्लैक्स की गोलियां आधा चम्मच खीरे का रस, गुलाब जल, शहद, गुलाब पाउडर, तुलसी, नीम, धनिये की पत्ती का पाउडर, जौ का आय आदि मिलाकर चेहरे पर गाढ़ा-गाढ़ा लगायें। व सूखने पर हल्के हाथ से पानी डालकर छुड़ा लें। इस पैक में डाली गई कोई चीज यदि आपको पास न उपलब्ध हो या पसंद न करें या त्वचा को न सूट करे वह न डालें।

3. ब्लैक हेड्स हो  या चेहरे पर निशान हो तो 2 चम्मच चौकर को मिक्सी में पीस लें। एक चम्मच अखरोट व गुलाब जल मिलाकर चेहरे पर लगायें । फिर हल्का सूखने पर जहाँ ब्लैक हेड्स हो वहाँ पर रगड़कर निकाल दें। त्वचा के तापमान के अनुरूप दूध 2 चम्मच गर्म करके उसमें चौकर व नमक मिलाकर चेहरे पर लगायें व रगड़कर निकाल दें।

4. त्वचा के तापमान के अनुरूप दूध 2 चम्मच गर्म करके उनमें चौकर व नमक मिलाकर चेहरे पर लगायें व रगड़कर धोकर साफ करें।

5. एक कप गेंदे की पत्तिया को आधा कप नीम की पत्तियाँ, एक कप पानी में उबालें व उसमें दो लौंग भी डालें, ठण्डा होने पर पानी डालकर उसमें एक चम्मच मुल्तानी मिट्टी, एक चम्प दूध की मलाई व एक टमाटर मिलाकर लगाने से आराम होगा।

6. चौकर, दही व हल्दी मिलाकर चेहरे पर लगायें व रगड़कर छुड़ा ब् कम होंगे व चेहरे पर, चमक बढ़ेगी।

7. आधा चम्मच नींबू का रस मे एक चम्मच कच्चा दूध मिलाकर। इसको रूई के फाहे से त्वचा पर लगायें और सूखने पर ठण्डे पानी से धो दें । ये फेस-पैक बिना फेशियल के भी लगा सकते हैं और फेशियल के बाद भी इस्तेमाल कर सकतें हैं।

8. पिसी हुई हल्दी तथा जौ के आटे को सरसों के तेल में मिलाकर उसमें थोड़ा-सा गुलाब जल डालकर इसको चेहरे पर लगायें । थोड़ा सूखने पर चेहरे को ठण्डे जल से धो दें।

9. दो चम्मच गुनगुने पानी में एक चम्मच शहद, एक चम्मच दूध को अच्छी तरह से मिलाकर इसे रूई या ब्रश से चेहरे पर लगायें फिर ठण्डे जल से चेहरा धो दें। इस फेम पैक को हफ्ते में दो बार लगाने से चेहरा मुलायम व चमकीला हो जाता है।

10. खसखस, हल्दी तथा चिरौंजी व सन्तरे के छिलके इन सबको बराबर मात्रा में मिलाकर पीसकर शीशी में रखें। तैलीय  त्वचा के लिए पानी में और शुष्क त्वचा के लिए दूध में मिलायें। इस लेप को चेहरे पर लगायें। सूखने के बाद चेहरा पानी से धो दें।

11. यदि आप अपनी शुष्क त्वचा का ज्यादा ध्यान नहीं रख पातें तो बेसन से मुँह धोने की आदत डालें। यात्राओं के लिए भी सूखा बेसन साथ रखें।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ