Dark Skin: साँवली त्वचा को कोमल सुन्दर बनाने तथा निखारने में निम्न उपाय

chehre ko gora banane ke gharelu upay

साँवली त्वचा का सौन्दर्य गोरी त्वचा सुन्दरता का प्रतीक है, ऐसा सोचना भ्रामक है, मिथ्या है। साँवला रंग होने पर भी यदि आपकी त्वचा स्वस्थ, स्निग्ध और कान्तियुक्त हो तो सौन्दर्य में चार चाँद लग जाते हैं विश्व प्रतियोगिताओं में गोरी, काली, साँवली त्वचा वाली सभी देशों की सुन्दरियाँ भाग लेती हैं।

वास्तव में देखा जाये तो साँवले रंग की त्वचा गोरे रंग की त्वचा की अपेक्षा अधिक स्वस्थ रहती है। साँवले रंग पर झुर्रियों व झाइयों का प्रकोप कम होता है व आयु का प्रभाव कम पड़ता है। साँवली त्वचा को धूप हानि पहुँचने की सम्भावना भी कम होती है। ऐसी त्वचा की उचित देखभाल करके इसको स्वाभाविक रूप से सुन्दर बनाया जा सकता है।

साँवली त्वचा को कोमल सुन्दर बनाने तथा निखारने में निम्न उपायों को अपनायें:

1. सन्तरे के छिलकों को सुखाकर पीस लें। फिर एक बादाम भी पीस ले और उसमें आधा चम्मच सन्तरे के छिलकों का पाउडर मिला लें। अब कुछ पानी की बूँदे मिलाकर हथेली में लेकर ऊपर की ओर रगड़ते हुए प्रतिदिन मालिश करें। इस प्रयोग में रंगत में निखार अवश्य आयेगी। बादाम पाउडर, दही, खमीर, मुलतानी मिट्टी और गुलाब जल मिलाका पेस्ट बनालें। अब इस पेस्ट से त्वचा की मालिश करें। बहुत हद तक रंग साफ हो जायेगा।

2 .बादाम पाउडर, दही, खमीर, मुल्तानी मिट्टी और गुलाब जल मिलाकर पेस्ट बनालें। अब इस पेस्ट से त्वचा की मालिश करें। बहुत हद रंग साफ हो जायेगा।

3. दो बादाम पीसकर , उसमें कुछ बूँदें शहद व दो चम्मच नींबू का रस मिलाकर त्वचा पर लगायें तथा सूखने के बाद धो दें । इसके निरन्तर उपयोग से रंग में काफी परिवर्तन आने लगता है।

4 . ओस को मुँह पर लगाने से चेहरे का सौन्दर्य बढ़ता है और त्वचा कोमल रहती है।

5 . चिरौंजी को दूध में पीसकर दो या तीन बार चेहरे पर लगाने से त्वचा रंग निखरता है।

6. बादाम की गिरी दूध में पीसकर चेहरे पर लगाने से त्वचा का सौन्दय बढ़ जाता है।

7 . एक अण्डा, एक चम्मच नींबू का रस, तीन चम्मच सोयाबीन का आय एक चम्मच दूध का पाउडर मिलाकर इस पैक को चेहरे पर लगायें खने पर धो दें। नहाने से पूर्व प्रयोग करें।

8. जै और गेहूँ का आटा मिलाकर उबटन करने से चेहरे का रंग साफ हो जाता है।

9. बेसन में थोड़ा-सा कच्चा दूध, एक चुटकी हल्दी मिलाकर उबटन बनायें और इसका नहाने से पूर्व त्वचा पर प्रयोग करें आपकी त्वचा चमक जायेगी।

10 . साँवला रंग होने के साथ साथ दिन यदि त्वचा शुष्क हो तो रात्रि में सोने से पूर्व चेहरे की डीप क्लीजिंग कर मॉइश्चराइजर लगायें और गीले फाहे से आधे घण्टे बाद पोंछ लें।

11. एक चम्मच कच्चे दूध में बादाम रोगन नींबू रस और गुलाब जल की कुछ बूँदे मिलाकर नित्य रात्रि चेहरे व गर्दन की त्वचा पर लगाने से धीरे - धीरे त्वचा का रंग निखरता जाता है। साँवली त्वचा के लिए शहद का प्रयोग उत्तम है।

कुछ अन्य घरेलू फेस पैक : इन फेस पैकों को चेहरे पर लगभग 5 मिनट लगा रहने दे उसके पश्चात् मलकर धो दें।

1. अरहर की दाल का फेस पैक : भीगी अरहर की दाल को दही के साथ पीसकर तैयार करें । इस फेस पैक को चेहरे पर लगायें और सूखने पर तेल की मालिश करके धीरे-धीरे साफ कर लें।

2 . बेसन का पैक : एक चम्मच बेसन में तीन चम्मच दही , चार बूंद शहद और ग्लिसरीन मिलाकर त्वचा पर लगाये सूखने पर धो दें।

3 . पोदीने का पैक : पोदीने की पत्तियों को पीस कर उसमें थोड़ी - ही हल्दी और बेसन मिलायें । चेहरे के पोषण के लिए यह उत्तम फेस पैक तैयार है।

4. मसूर का पैक : मसूर की दाल को पर्याप्त पानी में भिगोकर पीस लें अब उसे पर्याप्त कच्चा दूध मिलाकर इस पैक को चेहरे पर प्रयोग कर सूखने के पश्चात् धो डालें। यह एक साँवली त्वचा के लिये श्रेष्ठ फेस पैक सिद्ध होगा।

5. अरण्डी का पैक : अरण्डी के तेल में बेसन, जौ का आटा, एक चुटकी हल्दी और ग्लिसरीन मिलाकर फेस पैक बनाये।

6 . जायफल का पैक : जायफल को दूध में घिसकर उसे चेहरे पर पैक की तरह लगायें। सूखने पर धो डाले।

7. सब्जियों का फेस पैक : खीरा, लौकी को बराबर मात्रा में लेकर पीस लें, उसमें दही अथवा दूध की मलाई मिलाकर पैक की तरह चेहरे पर लगायें। सूखने पर धीरे-धीरे मसलकर गुनगुने पानी से धो दें। इससे त्वचा का अच्छा पोषण होगा।

8. मक्खन का पैक : पानी में थोड़ा-सा मक्खन और शहद फेंटकर चेहरे पर लगायें। इस पैक के प्रयोग से त्वचा में निखार तो आयेगा ही साथ ही शुष्कता भी दूर होगी।

उपरोक्त सुझावों में से यदि आप किसी एक को भी अपनालें तो मुझे पूरी आशा है कि आपको अपनी त्वचा में अवश्य ही परिवर्तन दिखाई देगा। जिन्हें अण्डे के प्रयोग या किसी अन्य चीज से एलर्जी हो तो वे उसका प्रयोग न करके दूध-दही का प्रयोग करें पैक घोलने के लिए किसी भी फल से रस का भी प्रयोग किया जा सकता है।

फेस पैक आँखों को छोड़कर सम्पूर्ण चेहरे व गर्दन पर लगायें। आँखों पर गुलाब के भीगे फाहे अथवा खीरे के कटे गोल टुकड़े रखकर आराम से लेट जायें। जब तक चेहरे पर लेप लगा रहे न तो मुस्कराये और न बातें करें अन्यथा झुर्रियाँ पड़ने का डर रहता है। पैरों को ऊंचे स्थान पर रखें।

सौन्दर्य के लिए आलू 

आलू को सब्जियों का राजा कहा जाता है। लेकिन इसका प्रयोग केवल रसोई घर तक ही सीमित नहीं है। अब तो आलू सौन्दर्य प्रसाधन के रूप में भी प्रयोग किया जाता है। रूखी त्वचा के लिए आलू अत्यंत लाभप्रद है। इसके लिए उबलें आलू उत्तम हैं। सबसे पहले उबले आलू को मसलें। फिर इसमें मलाई फेंट कर मिला लें। इस मिश्रण को मास्क के रूप में रूखी त्वचा पर लगायें। दस-पन्द्रह मिनट बाद चेहरा धो लें। इससे त्वचा को पोषण मिलता है।

उबले आलू के छिलकों को चेहरे पर रगड़ने से मुँहासे भी ठीक होते हैं। इसी तरह आलू के छिलकों को धोकर रात सोते समय काले धब्बे दूर हो जाते हैं । चेहरे पर रगड़ें व सुबह उठकर मुँह धो लें। ऐसा नियमित करने से चेहरे से काले धब्बे दूर हो जाते हैं। गालों और नाक के धब्बों से छुटकारा पाने के लिए कच्चे आलू के टुकड़े उनपर रगड़ें इससे फायदा होगा।

चौलाई का साग : इसका नियमित रूप से सेवन करने पर समय से पूर्व होने वाले जवानी के उतार को रोका जा सकता है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ